Maharashtra Ayurveda PG Entrance Exam Question Paper (PGA-CET-2010) With Answer Key

Maharashtra Ayurveda PG Entrance Exam-2010

1. Rovsing sign is related with –

(a) Acute Cholecystitis 

(b) Ovarian cyst 

(c) Acute Appendicitis 

(d) Perinephric abscess 

Answer: (c)

2. ‘‘षब्द प्रादुर्भाव’’ किस दग्ध का विषिष्ट लक्षण है ?

(a) त्वकदग्ध

(b) मांसदग्ध

(c) सिरास्नायुदग्ध

(d) अस्थिसन्धिदग्ध

Answer: (a)

3. ‘‘यद् द्वन्दजातं युगपत् क्रमाद्वा’’ किस अर्बुद के लिए कहा गया है ?

(a) अध्यर्बुद

(b) द्विरर्बुद

(c) मांसार्बुद

(d) रक्तार्बद

Answer: (b)

4. अनाहत चक्र का आश्रय स्थल माना गया है ?

(a) हृदय

(b) नाभि

(c) कण्ठ

(d) भू्रमध्य

Answer: (a)

5. सत्याबुद्धि का वर्णन किस आचार्य ने किया है ?

(a) सुश्रुत

(b) वाग्भट्ट

(c) चरक

(d) भावमिश्र

Answer: (c)

6. वात का गुण ‘दारूण’ किस आचार्य ने माना है ?

(a) कुष

(b) वाग्भट्ट

(c) चरक

(d) सुश्रुत

Answer: (a)

7. Reginal centres of W.H.O. are –

(a) 4

(b) 5

(c) 6

(d) 10

Answer: (c)

8. Visual and Auditory hallucanations are finds in the poisoning of –

(a) Dhatura

(b) Aconite

(c) Nerium

(d) Strychnus

Answer: (a)

9. कौनसी धारा के द्वारा बलात्कार की परिभाषा को स्पष्ट किया गया है ?

(a) IPC 375 

(b) IPC 376 

(c) IPC 377 

(d) IPC 511 

Answer: (a)

10. Which type of virus is related with Rabies –

(a) Paramixo virus 

(b) Arbo virus 

(c) Orthomixo virus 

(d) Rhebdo virus 

Answer: (d)

11. सुश्रुतानुसार शुक्रवह स्रोत्रस के मूल है –

(a) वृषण व शेफ 

(b) स्तन व वृषण 

(c) स्तन व मेढª 

(d) वृषण व अण्डाषय 

Answer: (b)

12. ‘‘सद्योमरण’’ किस स्रोत्रस की दुष्टि का लक्षण है –

(a) प्राणवह

(b) रसवह

(c) उदकवह

(d) रक्तवह

Answer: (b)

13. ‘‘प्लीहाभि वृद्वया जठरं, जठराच्छोथ एव च’’ है – (च. नि. 8/18)

(a) निदानार्थकर रोग 

(b) प्लीहोदर का लक्षण 

(c) प्लीहोदर का उपद्रव 

(d) शोथ का उपद्रव 

Answer: (a)

14. शुक्र शोणित में विकृति से उत्पन्न होने वाली व्याधियों को किस वर्ग में रखा गया है ?

(a) जन्मबल प्रवृत्त 

(b) स्वभावबल प्रवृत्त 

(c) आदिबल प्रवृत्त 

(d) देवबल प्रवृत्त 

Answer: (c)

15. आतुर बल ज्ञानार्थ चरक ने कितनी परीक्षा निर्दिष्ट की है –

(a) 10

(b) 5

(c) 8

(d) 4

Answer: (a)

16. ‘‘सन्तत’’ है ?

(a) सीवन का प्रकार 

(b) बंध का प्रकार 

(c) विषम ज्वर व सीवन का प्रकार 

(d) विषमज्वर का भेद 

Answer: (d)

17. उध्र्वग रक्तपित्त की साध्यासाध्यता होती है –

(a) असाध्य

(b) याप्य

(c) साध्य

(d) कृच्छ्रसाध्य

Answer: (c)

18. ‘‘दवथु’’ (चक्षु आदि इन्द्रियों में दाह का होना) किस व्याधि का पूर्वरूप है –

(a)  हृद्रोग

(b) ज्वर

(c) तृष्णा

(d) षोथ

Answer: (d)

19. ‘‘व्यापेता’’ किसका भेद है ?

(a) योनिव्यापद

(b) क्षुद्ररोग

(c) शूकदोष

(d) हिक्का

Answer: (d)

20. ‘‘षूकपूर्णगलास्यता’’ हैं ?

(a) कास का पूर्वरूप 

(b) रोहिणी का लक्षण 

(c) गलगण्ड का पूर्वरूप 

(d) शतघ्नी का लक्षण 

Answer: (a)

21. ‘‘कर्दम’’ किसका भेद है ?

(a) जलौका

(b) क्षुद्ररोग

(c) शूकदोष

(d) विसर्प

Answer: (d)

22. निम्न में से कौनसा एक संतर्पणोत्थ विकार है –

(a) पाण्डमय

(b) उन्माद

(c) कासानुबन्ध ज्वर

(d) हृदयव्यथा

Answer: (a)

23. आमाषयोत्थ विकारों की चिकित्सा है ?

(a) लंघन

(b) पाचन

(c) अपतर्पण

(d) उपर्युक्त सभी 

Answer: (d)

24. मांसप्रदोषज विकारों की चिकित्सा है ?

(a) लंघन

(b) तिक्तसर्पि सिद्ध वस्ति

(c) पाचन

(d) इनमें से कोई नहीं 

Answer: (d)

25. ‘‘अषब्द श्रृवणान’’ है ?

(a) उन्माद पूर्वरूप 

(b) अपस्मार पूर्वरूप 

(c) पाण्डु का ल़क्षण 

(d) कर्णक्ष्वेड का ल़क्षण 

Answer: (b)

26. ‘‘अस्थितोद’’ किसका ल़क्षण है ?

(a) अस्थिक्षय

(b) मज्जाक्षय

(c) शुक्रक्षय

(d) ओजक्षय

Answer: (a)

27. ‘‘रसस्तु हृदयं याति समाने मारूतेरित‘’ किसका कथन है ?

(a) शारंग्र्धर

(b) वाग्भट्ट

(c) भेल

(d) भावप्रकाष

Answer: (a)

28. ‘‘मूढसंज्ञता’’ किसका ल़क्षण है ?

(a) वातक्षय

(b) कफक्षय

(c) वातवृद्धि 

(d) कफवृद्धि

Answer: (a)

29. ‘‘यापना’’ वस्ति व्यापद की चिकित्सा है ? (च. सि. 12/31)

(a) दीपन

(b) लंघन

(c) पाचन

(d) संग्रहण

Answer: (a)

30. ‘‘उपवास’’ किस प्रकार की चिकित्सा का अंग है ?

(a) अद्रव्यभूत चिकित्सा 

(b) दैवव्यपाश्रय चिकित्सा 

(c) दोनों

(d) युक्तिव्यपाश्रय चिकित्सा 

Answer: (c)

31. अपानावृत्त व्यान वात की विषिष्ट चिकित्सा है – (च. चि. 28/213)

(a) दीपन

(b) संग्रहण

(c) अनुलोमन

(d) लघुभोजन

Answer: (b)

32. ‘‘सर्पिवर्णमधुरसं लाजगंधी प्रजायते’’ किसके लिए कहा गया है ?

(a) शुक्र

(b) ओज

(c) मस्तुलुंग

(d) घृष्ट व्रण

Answer: (b)

33. श्लेष्मा का मानव शरीर में अंजलि प्रमाण माना गया है ?

(a) 5 अजंलि 

(b) 6 अजंलि 

(c) 7 अजंलि 

(d)  9 अजंलि 

Answer: (b)

34. ‘‘विक्लेदकृत्’’ किसका कर्म माना गया है ?

(a) स्वेद

(b) रक्त

(c) अग्नि

(d) मूत्र

Answer: (d)

35. ‘‘स्फिक् ग्रीवा शुष्कता’’ किसका लक्षण है ?

(a) मांसक्षय

(b) मेदक्षय

(c) रक्तक्षय

(d) शुक्रक्षय

Answer: (a)

36. शिष्नाग्र पर किस प्रकार का बंध बाॅधा जाना चाहिए ?

(a) चीन

(b) उत्संग

(c) कोष

(d) स्थगिका

Answer: (d)

37. पुरूष की कटि का प्रमाण होना चाहिए ?

(a) 16 अंगुल 

(b) 24 अंगुल 

(c) 18 अंगुल 

(d) 32 अंगुल 

Answer: (c)

38. कुष्ठ व विसर्प नामक व्याधियों के अधिष्ठान वाली त्वचा का प्रमाण कितना होता है ?

(a) 1/12 ब्रीहि 

(b) 1/8 ब्रीहि 

(c) 1/5 ब्रीहि 

(d) 1 ब्रीहि 

Answer: (c)

39. ‘‘आन्विक्षिकी’’ किस दर्षन का पर्याय है ?

(a) न्याय

(b) न्याय

(c) वेदान्त

(d) सांख्य

Answer: (a)

40. सोमरोग का विस्तृत वर्णन प्रथमतः किस संहिता में मिलता है ?

(a) शारंग्र्धर

(b) माधव निदान

(c) काष्यप

(d) भाव प्रकाष 

Answer: (d)

41. संदिग्ध साध्यवान ………………………। ?

(a)  पक्ष

(b) सपक्ष

(c) विपक्ष

(d) पक्षधर्मता

Answer: (a)

42. वातरक्त का श्रेष्ठ चिकित्सा उपक्रम माना गया है ?

(a) वमन

(b) विरेचन

(c) वस्ति

(d) अभ्यंग

Answer: (c)

43. ‘‘अपरिमिताष्च पदार्था’’ किसका कथन है ?

(a) चरक

(b) सुश्रुत

(c) कणाद

(d) वाग्भट्ट

Answer: (b)

44. Respiratory center is situated in –

(a) Pons

(b) Hypothalamus

(c) Limbic Lobe 

(d) None

Answer: (a)

45. ‘‘उपपात्यनुपत्तिभ्यां यद्विमृदष्यते’’ किसकी चिकित्सा है – (च. शा. 1/21 चक्रपाणि टीका)

(a) चिन्तन

(b) विचार

(c) उह्य

(d) संकल्प

Answer: (b)

46. ‘‘सत्यवादिनः पूजार्हसंपूजकस्य वृद्धोपसेविनः’’ – किसका लक्षण है ?

(a) हितायु

(b) सुखायु

(c) आचार रसायन

(d) इनमें में से कोई नहीं

Answer: (a)

47. किन व्याधियों के कारण व मूलस्थान एक ही है ?

(a) हिक्का व उद्गार 

(b) हिक्का व श्वास 

(c) श्वास व कास 

(d) हिक्का, श्वास व कास 

Answer: (b)

48. ‘‘यस्य धारणे शक्ति सः ……………………। ’’

(a) कठिनः 

(b) विषदः

(c) स्थिरः

(d) सान्द्रः

Answer: (c)

49. Death signs are –

(a) Tardieus spots 

(b) Saponification 

(c) Cadaveric lividity 

(d) All the above 

Answer: (d)

50. यमदष्ं ट्रा काल माना गया है ?

(a) कार्तिक के अन्तिम सात एवं अगहन के प्रारम्भिक सात दिन 

(b) कार्तिक के अन्तिम आठ दिन 

(c) कार्तिक के अन्तिम आठ एवं अगहन के प्रारम्भिक आठ दिन 

(d) अगहन के प्रारम्भिक आठ दिन 

Answer: (b)

51. ‘‘ ……………..वातमलस्तम्भी’’।

(a) कठिनः

(b) विषदः 

(c) स्थिरः

(d) सान्द्रः

Answer: (c)

52. जल महाभूत में किन महागुणों का आधिक्य माना गया है ?

(a) सत्व व तम 

(b) सत्व व रज 

(c) रज व तम 

(d) तम

Answer: (a)

53. ‘‘समवायी तु निष्चेष्टः कारणं …………….।’’

(a) द्रव्य

(b) कर्म 

(c) गुण

(d) सवमाय

Answer: (b)

54. गुद व मेढª में किस प्रकार का छेदनकर्म करना चाहिए ?

(a) तिर्यक

(b) चन्द्राकार

(c) अर्द्धचन्द्राकार

(d) सीधा

Answer: (c)

55. ‘‘हृत्कण्ठरोगः संमोहष्छर्दिरूजा ज्वरः’’ किसका लक्षण है ?

(a) रोहिणी

(b) रक्तगतवात

(c) विक्षय

(d) ध्वंसक

Answer: (c)

56. नाडी की गति ‘‘मण्डूक’’ के समान होना किस दोष की प्रधानता का द्योतक है ?

(a) वात

(b) पित्त

(c) कफ

(d) द्वन्द्वज

Answer: (b)

57. व्रणवस्तु नहीं है ?

(a) त्वचा

(b) रक्त

(c) अस्थि

(d) मर्म

Answer: (b)

58. ‘‘क्षीरपूर्ण लोचना’’ किस सार वाले पुरूष का लक्षण है ?

(a) त्वक सार 

(b) मांससार

(c) मेदोसार

(d) शुक्रसार

Answer: (d)

59. ‘‘वामावर्त’’ किसका एक भेद है ?

(a) व्रणबंधन का 

(b) शंख का 

(c) दोनों का 

(d) सीवन का 

Answer: (c)

60. ‘‘पथ्यापथ्य विबोधक’’ निघण्टु है ?

(a) कैयदेव निघण्टु 

(b) शालिग्राम निघण्टु 

(c) मदनपाल निघण्टु 

(d) धन्वन्तरी निघण्टु 

Answer: (a)

61. हलीमक की चिकित्सा निर्दिष्ट है ?

(a) गुड हरीतकी 

(b) चित्रक हरीतकी

(c) अगस्त्य हरीतकी 

(d) दन्ती हरीतकी 

Answer: (c)

62. निमि के अनुसार वीर्य की संख्या है ?

(a) 15

(b) 2

(c) 8

(d) असंख्य

Answer: (a)

63. पंचलवण घृत का प्रयोग किस व्याधि की चिकित्सा निर्दिष्ट है ?

(a)  वातव्याधि

(b) वातज प्रतिष्याय 

(c) कफज मदात्यय 

(d) वातिक गुल्म

Answer: (b)

64. ब्समंतपदह दनज पे . 

(a) भल्लातक

(b) लताकरंज

(c) अरिष्टक

(d) कतक

Answer: (d)

65. किस दोष का प्राधान्य होने पर रक्त विस्रावण जलौका से करवाया जाना चाहिए –

(a) वात

(b) पित्त 

(c) कफ

(d) वात, पित्तज

Answer: (b)

66. बस्ति देने के उपरान्त अगर कफ का प्राधान्य हो तो रोगी को क्या दिया जाना चाहिए –

(a) पय

(b) मांसरस

(c) यूष

(d) यवागू

Answer: (c)

67. ‘‘हिक्का’’ किसका लक्षण है ?

(a) वमन के अतियोग का 

(b) विरेचन के अतियोग का 

(c) निरूह के अतियोग का 

(d) अनुवासन के अतियोग का 

Answer: (b)

68. ‘‘असीनो लभते सौख्यं उष्णं चैवाभिनन्दितैः’’ किसका लक्षण है ? –

(a) राजयक्ष्मा

(b) आमवात

(c) तमक श्वास 

(d) प्रमेह

Answer: (c)

69. शुण्ठी का विपाक होता है ?

(a) मधुर

(b) अम्ल

(c) कटु

(d) स्पष्ट नहीं है 

Answer: (a)

70. ‘व्यजंन’ किसका पर्याय है –

(a) पंखे का 

(b) रूप का 

(c) निदान का 

(d) पूर्वरूप का 

Answer: (b)

71. लंवग का प्रयोज्यांग होता है ?

(a) पुंकेसर

(b) निर्यास

(c) फल

(d) पुष्पकलिका

Answer: (d)

72. ‘नियूह’ किसका पर्याय है –

(a) मसी

(b) चूर्ण 

(c) फाण्ट

(d) क्वाथ

Answer: (d)

73. भ्है है ?

(a) गिरीसिन्दूर

(b) चपल

(c) हिंगुल

(d) गैरिक

Answer: (c)

74. अपत्यकर घृत का वर्णन चरक ने वाजीकरण के किस पाद में किया है –

(a) प्रथम

(b) द्वितीय

(c) तृतीय

(d) चर्तुथ

Answer: (d)

75. भूनाग सत्वपातन से प्राप्ति होती है –

(a) ताम्र

(b) नाग

(c) वंग

(d) लौह

Answer: (a)

76. मकरध्वज निर्माणार्थ किसकी भावना देने का निर्देष मिलता है –

(a) निम्ब स्वरस 

(b) तरूणी स्वरस 

(c) अर्क स्वरस 

(d) रक्तकार्पास स्वरस 

Answer: (d)

77. किसी धातु को पिघलाकर उसे अन्य द्रव में डालना क्या कहलाता है ?

(a) निर्वाप

(b) स्नपन

(c) प्रतिवाप

(d) ढालन

Answer: (d)

78. मण्ड निमाणार्थ कितने गुना जल लेने का निर्देष है ?

(a) 6 गुना 

(b) 4 गुना 

(c) 14 गुना 

(d) 16 गुना 

Answer: (c)

79. नस्य कर्म हेतु चरकानुसार किस स्नेहपाक के स्नेह का निर्दिष्ट है ?

(a) मध्य पाक 

(b) मृदु पाक

(c) खर पाक 

(d) उपर्युक्त सभी

Answer: (c)

80. अगर चार द्रवों से स्नेहपाक करना हो तो द्रवों की मात्रा होनी चाहिए –

(a) प्रत्येक द्रव, स्नेह से चार गुना प्रमाण में 

(b) सभी द्रव मिलकर स्नेह से चार गुना 

(c) प्रत्येक द्रव स्नेह से दो गुना मात्रा में 

(d) सभी द्रव मिलकर स्नेह से दो गुना 

Answer: (a)

81. आरोग्यवर्धिनी वटी में कुटकी का प्रमाण होता है लगभग –

(a) 25 % 

(b) 50 % 

(c) 75 % 

(d) 10% 

Answer: (b)

82. ‘‘कफपित्तघ्नी विषमज्वरनाषिनी’’ किसके लिए कहा गया है –

(a) वरा

(b) त्रिकटु

(c) छिन्नरूहा

(d) नागर

Answer: (a)

83. स्तनकीलक चिकित्सा का प्रथम उपक्रम है ?

(a) घृतपान

(b) विस्रावण

(c) विम्लापन

(d) पाटन

Answer: (a)

84. विरेचन कर्मोपरान्त कम से कम कितने दिन तक निरूह वस्ति का प्रयोग नही करना चाहिए ?

(a) 3 दिन 

(b) 5 दिन 

(c)  7 दिन 

(d) 10 दिन 

Answer: (c)

85. ‘‘वातल’’ किसका दोष है ?

(a) वस्ति नेत्र का 

(b) आतुर निमित्त 

(c) वस्ति का 

(d) वैद्य निमित्त 

Answer: (b)

86. चरकानुसार एषण है –

(a) यंत्र कर्म 

(b) शस्त्रकर्म 

(c) उपर्युक्त दोनों 

(d) अनुषस्त्र कर्म 

Answer: (a)

87. आमाषयगत वात की चिकित्सा उपक्रम है –

(a) रूक्षपूर्व स्वेद 

(b) स्नेह पूर्व स्वेद

(c) रूक्षपूर्व बस्ति 

(d) स्नेह पूर्व बस्ति 

Answer: (a)

88. अश्रुमार्ग का निर्माण किस महाभूत के प्राधान्य से माना जाता है –

(a) आकाष

(b) भू 

(c)  अग्नि

(d) आकाष व वात 

Answer: (a)

89. अक्षिगत पटलों की संख्या है ?

(a) 6

(b) 5

(c) 3

(d) 4

Answer: (c)

90. संक्रामक व्याधि है ?

(a) नेत्राभिष्यन्द

(b) कुष्ठ

(c) ज्वर

(d) उपर्युक्त सभी 

Answer: (d)

91. अजंननामिका किस प्रकार से चिकित्स्य व्याधि है ?

(a) छेद्य

(b) भेद्य

(c) लेख्य

(d) व्यध्य

Answer: (b)

92. ‘‘पित्तज व्याधि’’ है –

(a) गंभीरिका 

(b) अजकाजात

(c) शुक्तिका

(d) नकुलान्यध

Answer: (c)

93. आचार्य माधवकर के अनुसार नेत्र रोगों की संख्या हैं ?

(a) 76

(b) 78

(c)  94

(d) 96

Answer: (b)

94. संधिगत नेत्र रोगों की चिकित्सार्थ तर्पण की मर्यादा हैं –

(a) 100 वाक् मात्रा 

(b) 300 वाक् मात्रा 

(c) 500 वाक् मात्रा 

(d) 700 वाक् मात्रा 

Answer: (b)

95. अलजी की साध्यासाध्यता मानी जाती है ?

(a) सुखसाध्य

(b) कष्टसाध्य

(c) याप्य

(d) असाध्य

Answer: (d)

96. दोनों दृष्टि मण्डलों के बीच की दूरी (नयनान्तर) कितनी मानी जाती है –

(a) 2 अंगुल 

(b) 3 अंगुल 

(c) 4 अंगुल 

(d) 5 अंगुल 

Answer: (c)

97. ‘‘कालिका’’ का संबंध किससे है ?

(a) नासा

(b) कर्ण

(c) जिहृवा

(d) अक्षि

Answer: (b)

98. अष्टांग हृदय उत्तर तंत्र में कितने अध्याय है ?

(a) 30 

(b) 40

(c) 50

(d) 46

Answer: (b)

99. तुण्डीकेरी चिकित्सा की दृष्टि से किस प्रकार की व्याधि है ?

(a)  छेद्य

(b) भेद्य

(c) लेख्य

(d) व्यध्य

Answer: (b)

100. ‘‘खिल स्थान’’ किस संहिता में है ?

(a) भेल 

(b) भावप्रकाष

(c) हारीत

(d) काष्यप

Answer: (d)

101. सुश्रुतानुसार घ्राण का देवता माना गया है ?

(a) जल

(b) वायु

(c) पृथ्वी

(d) प्रजापति

Answer: (b)

102. ‘‘स कर्णकट्को द्रवतां यदा गतौ विलायितो घ्राणमुखं प्रपद्यते’’ किस व्याधि का लक्षण है ?

(a) कर्णगूथ

(b) कर्णस्राव

(c) कर्णप्रतिनाह

(d) कर्णक्ष्वेड

Answer: (c)

103. ‘‘वक्त्रम् वक्रं भवेद्यस्मिन दन्तभंगष्च तीव्र रूक्’’ – किस व्याधि का लक्षण है ?

(a) अर्दित

(b)  भंजनक

(c) दन्तहर्ष

(d) दालन

Answer: (b)

104. ‘‘लांगली’’ का प्रयोग निर्दिष्ट है ?

(a) गर्भधारणार्थ

(b) अपरा पातनार्थ

(c) स्तनक्षय चिकित्सार्थ 

(d) बंध्यत्व निवारणार्थ 

Answer: (b)

105. Spalding sign is find in –

(a) Intra uterine death 

(b) Fracture of cranium 

(c) Ovarian cyst

(d) Meningitis 

Answer: (a)

106. प्रसव के समय गर्भिणी द्वारा प्रवाहण कब किया जाना चाहिए –

(a) आवी के पूर्व 

(b) आवी के पष्चात् 

(c) आवी के दौरान 

(d) इनमें से कोई नहीं 

Answer: (c)

107. आचार्य सुश्रुत ने पक्षाघात की चिकित्सार्थ अणुतैल का किस रूप में प्रयोग करने का निर्देष दिया है –

(a) पान

(b) अभ्यंग

(c) अनुवासन

(d) उपर्युक्त सभी 

Answer: (b)

108. वाग्भट्टानुसार सूतिका का अभ्यंग किससे करवाया जाना चाहिए –

(a) नारायण तैल

(b) महानारायण तैल 

(c) कुष्ठ तैल 

(d) बला तैल 

Answer: (d)

109. काष्यपानुसार सूतिका काल माना गया है ?

(a) 15 दिन 

(b) 1 माह 

(c) 1/2 माह 

(d) 6 माह 

Answer: (d)

110. ‘‘अकस्मात् अट्टहसनं’’ किस व्याधि का विषिष्ट लक्षण है ?

(a) मदात्यय

(b) अतत्वाभिनिवेष

(c)  उन्माद

(d) अपस्मार

Answer: (d)

111. सुश्रुत संहिता के प्रतिसंस्कर्ता माने जाते है ?

(a) डल्हण

(b) नागार्जुन

(c) चन्द्रट

(d) दृढबल

Answer: (c)

112. सात बर्षीय बालक को विरेचनोपरान्त शूल हो गया है उसकी क्या चिकित्सा की जानी चाहिए –

(a) घृतपान

(b) पटस्वेद

(c) उपर्युक्त सभी 

(d) विरेचन

Answer: (b)

113. Dose of vitamin D is –

(a) 200 IU / day 

(b) 400 – 1000 IU / day 

(c) 1000 – 4000 IU / day 

(d) 200 – 400 IU / day 

Answer: (b)

114. ‘‘विवेक’’ किस महाभूत का विषिष्ट गुण है –

(a) वायु

(b) पृथ्वी

(c) तेज

(d) आकाष

Answer: (d)

115. ‘‘स्वेददोषाम्बुवाहिनि‘‘ किस वायु के लिए कहा गया है –

(a) व्यान वायु 

(b) समान वायु 

(c) उदान वायु 

(d) प्राण वायु 

Answer: (b)

116. वाग्भट्टानुसार कला की उत्पत्ति किससे मानी गयी है ?

(a) रक्त से 

(b) कफ से 

(c) क्लेद

(d) मेद से 

Answer: (c)

117. ‘‘उषास्रावान्वितं’’ किस व्रण का विषिष्ट लक्षण है –

(a) पिच्चित व्रण 

(b) क्षत व्रण 

(c) विद्ध व्रण 

(d) घृष्ट व्रण 

Answer: (d)

118. पक्व व्रणषोथ का विषिष्ट लक्षण है –

(a) त्वक् परिपुटनं 

(b) त्वकसवर्णता 

(c) त्वक वैवण्र्य

(d) भक्तारूचि 

Answer: (a)

119. काष्यपानुसार फुफ्फुस की उत्पत्ति किससे मानी गयी है –

(a) शोणितफेन 

(b) हृदय से 

(c) यकृत से 

(d) प्लीहा से 

Answer: (d)

120. ‘‘तप तपस्य’’ किस ऋतु के मास है –

(a) बसन्त

(b) ग्रीष्म

(c) शरद

(d) षिषिर

Answer: (d)

121. किस/किन हृदय रोग/रोगों की चिकित्सार्थ वमन कर्म निर्दिष्ट है –

(a) वातिक

(b) पैत्तिक

(c) श्लैष्मिक

(d) उपर्युक्त सभी 

Answer: (d)

122. ‘‘कफषोणितमांसानां सारो ……………… प्रयाजते।’’

(a)  वृक्क

(b) आन्त्र

(c) जिहृवा

(d) वृषण

Answer: (b)

123. सोत्रस् का/के पर्याय है/हैं –

(a) निकेत 

(b) पन्थ

(c) रसायनी

(d) उपर्युक्त सभी 

Answer: (d)

124. ‘‘मातुस्तु खलु …………………..नाड्यां गर्भनाभिनाडी प्रतिबद्धा।’’

(a) रसवहायां

(b) आर्तववहायां

(c) रक्तवहायां

(d) मेदोवहायां

Answer: (a)

125. हठयोग प्रदीपिका में योग का प्रथम अंग माना गया है –

(a) यम

(b) प्राणायाम

(c) प्रत्याहार

(d) आसन

Answer: (d)

126. ‘‘स्तेय’’ की चक्रपाणि सम्मत परिभाषा है –

(a) परानिष्टजनकाभिधायकम

(b) समाने द्रव्ये परसम्बन्धप्रतिषेघेच्छा 

(c) परद्रव्यग्रहणं

(d) समाने द्रव्ये परसम्बन्धप्रतिषेघेच्छा 

Answer: (c)

127. ‘‘षल्यमुखावरूद्धो यावदन्तर्वायुतिष्ठतितावज्जीवति’’ किस मर्म के लिए कहा गया है ?

(a) रूजाकर

(b) वैकल्यकर

(c) विषल्यन

(d) कालान्तर प्राणहर

Answer: (c)

128. ‘‘गन्धाद् उद्विजते शुभात्’’ किसका लक्षण है –

(a) गर्भिणी

(b) सद्योगर्भा

(c) ऋतुमती

(d) प्रजायनी

Answer: (a)

129. जाति, कुल, देष, काल, वय व प्रत्यात्मनियता है ?

(a) प्रकृति के भेद 

(b) विकृति के भेद 

(c) संहनन के भेद 

(d) औषध चयन भाव 

Answer: (a)

130. चक्रतैल का प्रयोग किसकी चिकित्सा में निदिष्ट है ?

(a) अवपाटिका

(b) पालित्य

(c) निरूद्ध प्रकाष

(d) अहिपूतना

Answer: (c)

131. चक्रपाणि द्वारा लिखी गयी ‘भानुमति टीका’ उपलब्ध है ?

(a) केवल सूत्रस्थान पर

(b) केवल निदान स्थान पर 

(c) सूत्र व निदान स्थान पर 

(d) सम्पूर्ण सुश्रुत संहिता पर

Answer: (a)

132. निम्नलिखित में से किस वर्ग में ‘‘वट’’ को रखा गया है ?

(a) वनस्पति

(b) वानस्पत्य

(c) औषध

(d) वीरूध

Answer: (a)

133. आचार्य चरकानुसार मूल का संग्रहण का काल है ?

(a) शरद व ग्रीष्म ऋतु 

(b) ग्रीष्म व षिषिर ऋतु में 

(c) ग्रीष्म ऋतु 

(d) हेमन्त व षिषिर ऋतु में 

Answer: (b)

134. अरिष्ट निमाणार्थ अनुक्त मान होने पर गुड कितने प्रमाण में लेना चाहिए –

(a) एक तुला 

(b) दो तोला 

(c) एक द्रोण 

(d) अर्द्ध तोला 

Answer: (a)

135. त्रिभुवनकीर्ति रस का भावना द्रव्य नहीं है ?

(a) नीबू स्वरस 

(b) वासा स्वरस 

(c) निम्ब स्वरस 

(d) धत्तूर स्वरस 

Answer: (c)

136. ‘‘अल्पक्षुत्तृष्णा संताप स्वेदे दोषा’’ – किस प्रकृति का लक्षण है ?

(a) वातज

(b)  पित्तज

(c) कफज

(d) सम

Answer: (c)

137. सुश्रुतानुसार अष्मरी का भेद नहीं है ?

(a) वातज

(b) पित्तज

(c) रक्तज

(d) कफज

Answer: (c)

138. ‘‘………….. मेधा’’ । (च. वि. 4/8)

(a) ग्रहणेन

(b) अभिप्रायेण

(c) नामग्रहणेन

(d) अनुबन्धेन

Answer: (a)

139. ……………..मनः प्रतिबुद्धतरं भवति।’’

(a) चतुर्थे

(b) पंचमे

(c) षष्ठे

(d) सप्तमे

Answer: (b)

140. ‘‘षूलं च महज्जीर्यति’’ किसका लक्षण है –

(a) अन्न्द्रव षूल 

(b) पित्तज गुल्म 

(c) रक्तज गुल्म 

(d) वातिक गुल्म 

Answer: (b)

141. कास की चिकित्सार्थ निर्दिष्ट योग है –

(a) चित्रक हरीतकी 

(b) दन्ती हरीतकी 

(c) अगस्त्य हरीतकी 

(d) गुड हरीतकी 

Answer: (c)

142. किस वेगविधारण की चिकित्सा में त्रिविध बस्तिकर्म का निर्देष है –

(a) मूत्र वेग 

(b) अपानवायु वेग 

(c) पुरीष वेग 

(d) शुक्र वेग 

Answer: (a)

143. किस न्याय को ‘‘सर्वात्मपरिणामपक्ष’’ न्याय भी कहते है –

(a) केदारी कुल्या 

(b) एक काल धातु पोषण 

(c) क्षीर दधि 

(d) उपर्युक्त में से कोई नहीं 

Answer: (c)

144. निम्न में से सीवन का प्रकार है –

(a) गोफणिका

(b) तुन्नसेवनी

(c) ऋजु ग्रन्थि 

(d) उपर्युक्त सभी 

Answer: (d)

145. अष्टोदरीय अध्याय में कुल कितनी व्याधियों के भेदों का वर्णन है –

(a) 18

(b) 8

(c) 38

(d) 48

Answer: (d)

146. ‘‘…………………….नाम पराजय प्राप्ति।’’

(a)  अभ्यनुज्ञा

(b) प्रतिज्ञा

(c) निग्रहस्थान

(d) उपालम्भ

Answer: (c)

147. Fatal doseof HCl is –

(a) 5-10ml 

(b) 15 – 20ml 

(c) 20 – 25ml 

(d) 25 – 30ml 

Answer: (b)

148. हारीत के मतानुसार क्षीर दोष नहीं है –

(a) घनक्षीर

(b) अम्लक्षीर

(c) मृदुक्षीर

(d) क्षारक्षीर

Answer: (c)

149. चरकानुसार प्रायोगिक धूमपान के काल होते है –

(a) 5

(b) 11

(c) 7

(d) 8

Answer: (d)

150. धवलविटप है ?

(a) चंपा

(b) श्वेतार्क

(c) सर्पगन्धा

(d) पाटला

Answer: (c)

151. ‘‘……………………. निपाते द्रव्याणां।’’

(a) रसो

(b) वीर्यो

(c) विपाको

(d) गुणो

Answer: (a)

152. किसके बीजों की संज्ञा ‘हरेणुका’ है ?

(a) नाषपति

(b) कुटज

(c) शोभान्जन

(d) र्निगुण्डी

Answer: (d)

153. ‘‘पारावतपदी’’ किसका पर्याय है ?

(a) शालपर्णी

(b) तेजोहृा

(c) बाकुची

(d) ज्योतिमती

Answer: (d)

154. धवलविटप है ?

(a) चंपा

(b) अष्वगन्धा

(c)सर्पगन्धा

(d) पाटला

Answer: (c)

155. मधुरत्रिफला है ?

(a) जातिफल, लवंग व पूगफल 

(b) काष्मरी, खर्जूर, द्राक्षा

(c) काष्मरी, खर्जूर, परूषक 

(d) काष्मरी, द्राक्षा, परूषक 

Answer: (d)

156. ‘‘चक्षुष्या‘‘ का लैटिन नाम है ?

(a) Cassia absus 

(b) Cassia sophera 

(c) Cassia Angustifolia 

(d) Cassia Asiaticum 

Answer: (a)

157. Usefull part of the Asofoetida is –

(a) Gall

(b) Root

(c) Fruit

(d) Oleoresin

Answer: (d)

158. Quercus infectoria है ?

(a) जातिफल

(b) खत्मी

(c) मायाफल

(d) चित्रक

Answer: (d)

159. जातिफल के गुणधर्म होते है –

(a) लघु, शीत 

(b)  गुरू, तीक्ष्ण 

(c) लघु, उष्ण 

(d) लघु, मृदु 

Answer: (c)

160. मध्यम बल वाले पुरूष को पिप्पली का प्रयोग रसायनार्थ किस रूप में करवाया जाना चाहिए –

(a) चूर्ण

(b) क्वाथ

(c) कल्क

(d) फाण्ट

Answer: (b)

161. Tail of Pancreas is attached with-

(a) Linorenal ligament 

(b) Broad ligament 

(c) Falciform ligament

(d) Ligamentum teres

Answer: (a)

162. Medial boundary of femoral ring is made up of

(a) Rectus femoris 

(b) Rectus abdominis 

(c) Lacunar ligament 

(d) Pectineus

Answer: (c)

163. Coronary artery is the branch of –

(a) Aortic sinus 

(b) Ascending aotra 

(c) Descending aorta 

(d) None

Answer: (b)

164. Total average Fe (iron) requirement during pregnancy –

(a) 500mg 

(b) 1000mg

(c) 3gm

(d) 10gm

Answer: (b)

165. Rate of aqueous humor production per minute –

(a) 1.6 μl/min 

(b) 2.3 μl/min 

(c) 2.7 μl/min 

(d) 1.23 μl/min 

Answer: (b)

166. Incubation period of Rubella virus –

(a) 7 – 10 days 

(b) 10 – 14 day

(c) 14 – 18 days 

(d) 21 – 30 days 

Answer: (c)

167. Cup – pencil joint deformity is found in –

(a) Osteoporosis

(b) Rheumatoid arthritis 

(c) Gout

(d) All

Answer: (b)

168. Concentration of bile salts in bile –

(a) 50% 

(b) 25% 

(c) 67% 

(d) 89% 

Answer: (c)

169. Average duration to say chyme

(a) 2 – 4 hour 

(b) 4 – 6 hour 

(c) 4 – 8 hour 

(d) None

Answer: (a)

Latest Govt Job & Exam Updates:

View Full List ...